BJP नेता का दावा- भाजपा ने भगवान राम को दिया जीवनदान, बोले- हम न होते तो कहीं समुद्र में पड़े होते

अपनी राजनीति चमकाने और चापलूसी के चक्कर में नेता क्या क्या और कैसे कैसे बयान दे देते हैं, ये समझ से परे होता है।

अभी भाजपा नेता और मध्यप्रदेश सरकार में मंत्री विश्वास सारंग का बढ़ती महंगाई के लिए पंडित नेहरु को जिम्मेदार ठहराने का मामला शांत भी नहीं हुआ था कि दूसरे भाजपा नेता गुलाब कटारिया मैदान में कूद पड़े।

राजस्थान विधानसभा में विपक्ष के नेता गुलाबचंद कटारिया ने एक जनसंबोधन के दौरान कह दिया कि देश में आज अगर भारतीय जनता पार्टी न होती तो भगवान श्रीराम आज समुद्र में होते।

कटारिया ने कहा कि सड़क और नालियां तो कोई भी बना देगा। सड़क और नालियां तो और भी बन जाएंगी लेकिन याद रखिए कि देश नहीं बचा तो भगवान भी आपको कोसेंगे।

कटारिया ने कहा कि सरकारें आएंगी और चली जाएंगी। मेरे जैसे लोग आएंगे और चले जाएंगे लेकिन आप लोग इस बात की चिंता मत किजिए। चिंता देश की किजिए।

देश को बचाना है। यहां पर प्रतियोगिता देश को बचाने की है। आज भाजपा नहीं होती तो भगवान राम समुद्र में होते और उन्हें याद करने के लिए आपको भी समुद्र में जाना पड़ता।

कटारिया ने कहा कि ये जान लिजिए कि हिंदुस्तान को सिर्फ भाजपा ने बचाया है। अगर हमारे, आपके बाप दादाओं ने तलवार हाथ में नहीं उठाई होती तो आज हम जनेउ पहनने लायक भी नहीं होते।

गुलाब चंद कटारिया ने अपने संबोधन में जमकर हिंदू, हिंदुत्व और राष्ट्रवाद पर भाषण दिया और कांग्रेस के खिलाफ अपनी भड़ास निकाली।

कटारिया ने इस दौरान कहा कि लोग मुझे पागल कहा करते थे। मैंने अपनी जवानी के 18 महीने जेल में काटे हैं। मैंने अपनी जवानी को यूं ही सिर्फ विधायक की कुर्सी चाटने के लिए बर्बाद नहीं किया है।

लोग मेरी आलोचना किया करते थें लेकिन मैंने किसी की परवाह नहीं की. यही वजह है कि आज मैं यहां तक पहुंचा हूं।

कटारिया ने कहा कि मैं राजनीति में पैसा कमाने के लिए नहीं आया हूं। राजनीति में मेरे आने का मकसद देश को बचाना है और राष्ट्र का निर्माण करना है।

गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि एक तरफ वो पार्टी है जो देश को देशद्रोहियों के हवाले करना चाहती है और दूसरी तरफ वो पार्टी है जो देश के लिए कुर्बानी दे रही है। आप लोगों को फैसला करना है कि आप किसे सत्ता सौंपना चाहते हो।

कटारिया ने बिना नाम लिए कांग्रेस को देशद्रोही पार्टी करार दिया और कहा कि इस बार देशद्रोहियां का साथ नहीं देना है और सिर्फ भाजपा को सत्ता में लाना है ताकी राष्ट्र निर्माण में मजबूती आ सके।

Post a Comment

0 Comments