गोरखपुर में लोगों ने BJP सांसद को दौड़ाया, बोले- जब बाढ़ का पानी भरा था तब कोई नज़र नहीं आया, अब आ रहे हैं

उत्तर प्रदेश में बीते भारी बारिश की वजह से राज्य के कई जिलों में बाढ़ आई थी। बाढ़ के कारण लोगों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ा।

राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस कड़ी में कल अपने गृह जनपद गोरखपुर का दौरा किया था। जहां उन्होंने बाढ़ पीड़ितों से भी मुलाकात की।

खबर सामने आई कि गोरखपुर के बांस गांव में बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री बांटने पहुंचे भाजपा सांसद कमलेश पासवान को ग्रामीणों द्वारा उल्टे पांव वहां से भगा दिया गया।

खबर के मुताबिक, ग्रामीणों में इस बात को लेकर नाराजगी है कि भाजपा नेता बाढ़ प्रभावित इलाके का जायजा लेने के लिए काफी देर से आए। जब लोग परेशानियों का सामना कर रहे थे तो वह कहां थे ?

इतने दिनों तक इलाके में एक नाव तक नहीं थी। जब पानी कम हुआ है। तो अब भाजपा नेता वहां आकर लोगों की मदद करने का दिखावा कर रहे हैं।

आपको बता दें कि गोरखपुर में बांध टूट जाने की वजह से कई गांवों में पानी आ गया। कई दिनों तक हजारों लोगों ने घरों की छत पर रहकर गुजारा किया। इलाकों में लोगों के पास खाने पीने का सामान नहीं था।

ऐसे में आज जब भाजपा संसद ग्रामीणों से मिलने पहुंचे तो लोगों ने उन्हें साफ कह दिया कि अब जब बाढ़ का पानी कम हो गया है तो आप यहां क्या करने आए हैं?

भाजपा सांसद का लोगों द्वारा जमकर विरोध किया गया। जोकि यह दर्शाता है कि प्राकृतिक आपदा के दौरान प्रशासन की तरफ से पर्याप्त मात्रा में राशन और राहत सामग्री का वितरण नहीं किया गया और ना ही लोगों की कोई मदद की गई।

ग्रामीणों द्वारा भाजपा सांसद कमलेश पासवान के विरोध का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है।

बताया जाता है कि कमलेश पासवान का विरोध करने वालों में से ज्यादातर भारतीय जनता पार्टी के ही समर्थक ही थे।

Post a Comment

0 Comments